हरियाणा

HARYANAअध्यापकों ने की सीएम के कैंप कार्यालय का घेराव कर बैरिकेड्स तोड़ने की काेशिश, महिला टीचरों ने फेंकी चूड़ी

COURTESY DAINIK BHASKAR SEPT 11

अध्यापकों ने की सीएम के कैंप कार्यालय का घेराव कर बैरिकेड्स तोड़ने की काेशिश, महिला टीचरों ने फेंकी चूड़ी
महिला अतिथि अध्यापकों ने सरकार के खिलाफ जताया रोष, कहा-मांगें नहीं मानी तो आज फिर करेंगे प्रदर्शन

अतिथि अध्यापकाें ने मांगों को लेकर मंगलवार को धरना स्थल सेक्टर-12 से सीएम कैंप कार्यालय की ओर प्रदर्शन कर घेराव किया। पुलिस प्रशासन की ओर से अतिथि अध्यापकों को बैरिकेड्स लगाकर रोका गया। अतिथि अध्यापकों ने दो घंटे सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उनकी मांगे सुनने के लिए जिला प्रशासन का कोई अधिकारी सीएम कैंप कार्यालय पर नहीं पहुंचा तो अध्यापकों ने बैरिकेड्स तोड़ने की पूरी कोशिश की।
लेकिन पुलिस ने बैरिकेड्स को तोड़ने नहीं दिया। महिला अतिथि अध्यापकों ने पुलिस प्रशासन पर चूड़ियां फेंक कर सरकार के खिलाफ रोष व्यक्त किया है। काफी समय बाद ड्यूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार राजबक्श पहुंचे। जहां पर अतिथि अध्यापकों ने कहा यदि मांगों को लेकर जल्द सरकार के साथ बातचीत नहीं कराई तो वे बुधवार को उग्र प्रदर्शन करेंगे। अतिथि अध्यापक मांगों को पूरा न होने को लेकर काफी रोष है।
सरकार से मांगों को लेकर नहीं हो पा रही सहमति : सोमवार को अतिथि अध्यापकों के प्रतिनिधिमंडल को चंडीगढ़ में प्रधान सचिव से वार्ता के लिए बुलाया गया था। समयानुसार वार्ता शुरू हुई मगर कोई सहमति नहीं बनी। इसके बाद दोबारा बातचीत करने के लिए अध्यापकों का प्रतिनिधिमंडल चंडीगढ़ में डटा है।
मगर अधिकारी ने दोबारा वार्ता नहीं की। इस अवसर पर नवनीत कौर, रिंपल, कुलविंदर, प्रीति, दयाल चंद्रहास, पीटर चहल, बलवान, मेहरलाल, सीमा, संतोष, रीटा पुनिया, नीरज, रूबी, चंद्रावती, रघु वत्स, कुलदीप, मंजीत, पुष्पा सहित सैकड़ों अतिथि अध्यापक मौजूद रहे।
आरोप : अतिथि अध्यापकों ने कहा- सरकार ने अपने एक भी वादे को पूरा नहीं किया और अब बात करने से भी भाग रही, आंदोलन जारी रहेगा
करनाल. प्रदर्शन के दौरान बैरिकेड्स हटाने का प्रयास करते गेस्ट टीचर और महिला अध्यापकों की ओर से फेंकी गई चूड़ियां इनसेट लाल घेरे में। फोटो|भास्कर
करनाल. मीटिंग का समय निश्चित होने के पत्र की प्रतियां जलाते सर्व कर्मचारी संघ के सदस्य।
नगर पालिका कर्मचारियों ने की नारेबाजी
निसिंग|शहर के नगर पालिका कार्यालय के सामने नपा के सफाई कर्मचारियों ने गेट मीटिंग कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। इसकी अध्यक्षता सफाई कर्मचारी प्रधान इंद्र सिंह व रामप्रताप सिंह ने की। इंद्र सिंह ने बताया कि बीते दिनों सरकार ने सफाई कर्मचारियों की जो मांग मानी गई थी उसे आज तक लागू नहीं किया गया। इस कारण कर्मचारियों में भारी रोष पनप रहा है। उन्होंने सरकार चेताया कि यदि कर्मचारियों की मांग 11 सिंतबर तक लागू नहीं किया गया तो कर्मचारी काम छोड़ आंदोलन करने पर मजबूर होना पड़ेगा। इस मौके पर रोशनी, विमला, सुनीता, मीना, कैलाशो देवी, हवा सिंह, राजू रामकुमार,दीपक, विजय, कमल अाैर सुरेश सहित अन्य मौजूद रहे।
करनाल. मांगों को लेकर लघु सचिवालय पर रोष प्रदर्शन करते सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के सदस्य।
इधर... समय देकर मीटिंग न करने से नाराज कर्मियों ने लघु सचिवालय में किया प्रदर्शन
करनाल| मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव की अाेर से मीटिंग का समय देकर मीटिंग न करने से सोमवार को गुस्साए विभिन्न विभागों में कर्मचारियों ने डीसी आॅफिस पर जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान रविवार को सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा की आक्रोश रैली में डीसी द्वारा सोमवार को मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव के साथ मीटिंग का समय निश्चित होने के पत्र की प्रतियां जलाईं और सरकार के गैर जिम्मेदाराना रवैये की घोर निंदा की।
सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशव्यापी प्रतिरोध दिवस के तहत किए गए प्रदर्शन का नेतृत्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री, केन्द्रीय कमेटी के सदस्य कृष्ण चंद्र शर्मा, शारदा देवी, बिजली कर्मचारी नेता एनपी सिंह चौहान, सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान मलकियत सिंह व जिला सचिव इन्द्रजीत सिंह चिनालियां कर रहे थे। डीसी आॅफिस पर प्रदर्शन से पहले कर्मचारियों ने फव्वारा पार्क में एक कर्मचारी सभा का आयोजन किया। कर्मचारी वहां से सरकार के रवैये के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जुलूस के रूप में डीसी कार्यालय पहुंचे। वहां मौजूद भारी पुलिस बल ने मुख्य द्वार बंद कर कर्मचारियों को रोकने का प्रयास किया। लेकिन कर्मचारियों में सरकार के खिलाफ गुस्सा इतना था कि वह गेट खोल कर अंदर घुस गए और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों को उपायुक्त ने बातचीत के लिए बुलाया और आश्वासन दिया कि शीघ्र ही मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव के साथ सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा की विधिवत मीटिंग होगी।
प्रर्दशनकारियों को डीसी आॅफिस पर संबोधित करते हुए सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान सुभाष लांबा व वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री ने कहा कि सरकार जानबूझकर सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के साथ बात करने से बच रही है। क्योंकि सरकार ने 2014 में भाजपा द्वारा जारी घाेषणा पत्र में कर्मचारियों से किए एक भी वादों को पांच साल में पूरा नहीं किया। इतना ही नहीं सरकार कर्मचारियों की नीतिगत मांगों पंजाब के समान वेतनमान देने, एनपीएस को रद्द कर पुरानी पेंशन बहाल करने, संघ के सुझाव अनुसार रेगुलराइजेशन बिल पारित करने, जन

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
tatkalnews.com
AAR ESS Media
newstatkal@gmail.com
tatkalnews181@gmail.com
Visitor's Counter : 88315325
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved.
Desktop Version