पंजाब समाचार

जालंधर और रोपड़ के 130 गांवों में घुसा पानी 3 हजार से ज्यादा बेघर, बाढ़ जैसे हालात

भाखड़ा से सोमवार को 1.44 लाख क्यूसिक पानी और छोड़े जाने के बाद सोमवार को सूबे में धुस्सी बांध कई जगह से टूट गए। इससे जालंधर और रोपड़ के करीब 130 गांवों में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। फिल्लौर और शाहकोट के अंतर्गत आते 102 गांव व रोपड़ के 28 और गांवों में 5-6 फीट तक पानी फैल गया। खन्ना, नवांशहर, जगराओं और तरनतारन के 138 गांवों की हालत नाजुक है।

रोपड़ जिले के करीब 600 परिवारों के 3000 से ज्यादा लोग बेघर हो गए, जिन्हें सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। जालंधर में अार्मी व एनडीअारएफ ने करीब 80 लोगों को रेसेक्यू किया। उधर, सोमवार को सीएम कैप्टन ने प्रभावित इलाकों का दौरा कर 100 करोड़ जारी करने के आदेश दिए। वहीं, फिरोजपुर-जालंधर ट्रैक पर 9 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं।

भाखड़ा डैम- 1988 का रिकॉर्ड टूटा भाखड़ा बांध में सोमवार सुबह एक लाख क्यूसिक से ज्यादा पानी आने से 1988 में बना आमद का रिकॉर्ड टूट गया।

पौंग डैम- 1375.22 फीट हुआ जलस्तर

  • 4.40 बजे पौंग डैम का जल स्तर 1375.22 फीट हो गया है 
  • झील में पानी 1 लाख 11 हजार 707 क्यूसिक पहुंच चुका है। 
  • क्षमता 1390 फीट है।

अफसरों की छुटि्टयां रद्द :
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सभी जिलों के डीसी, एडीसी और एसडीएम की छुट्टियां तुरंत प्रभाव से रद्द कर दी हैं।

आगे क्या

सूबे में मंगलवार को एक-दो जगहों पर हल्की बारिश के आसार हैं। रविवार को हुई बारिश से सूबे में बारिश का आंकड़ा अब 5% प्लस में चल रहा है। हालांकि, कई इलाकों में सामान्य है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
tatkalnews.com
AAR ESS Media
newstatkal@gmail.com
tatkalnews181@gmail.com
Visitor's Counter : 96237900
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved.
Desktop Version