हरियाणा

हरियाणा डॉ0 के.पी. सिंह द्वारा रचित नवीनतम कहानी संग्रह “अबोधिसत्व“ तथा “क्रिमिनोलॉजी, पेनोलॉजी एंड विक्टिमोलॉजी” के द्वितीय संस्करण का विमोचन किया

चंडीगढ़, 3 फरवरी - न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) श्री इकबाल सिंह, संपादक राजस्थान पत्रिका, श्री ओम थनवी, चंडीगढ़ जूडीषियल अकादमी के पूर्व निदेशक, प्रो0 वीरेंद्र कुमार व नेशनल एकेडमी ऑफ लीगल स्टडीज एंड रिसर्च, लॉ यूनिवर्सिटी, हैदराबाद के पूर्व कुलपति, प्रो0 वीर सिंह तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों द्वारा आज पुलिस लाइंस, पंचकूला में पुलिस महानिदेशक, हरियाणा डॉ0 के.पी. सिंह द्वारा रचित नवीनतम कहानी संग्रह “अबोधिसत्व“ तथा “क्रिमिनोलॉजी, पेनोलॉजी एंड विक्टिमोलॉजी” के द्वितीय संस्करण का विमोचन किया गया।

  “अबोधिसत्व“, जो मनुष्य जीवन के सत्य से पाठकों का साक्षात्कार कराती है कहानियों का संग्रह है जिसे डॉ0 के.पी. सिंह द्वारा लिखा गया है। जबकि “क्रिमिनोलॉजी, पेनोलॉजी एंड विक्टिमोलॉजी” के द्वितीय संस्करण की रचना डॉ0 दीपा सिंह, डॉ0 मालविका सिंह और डॉ0 के.पी. सिंह द्वारा संयुक्त रुप से की गई है। इस संस्करण में कानूनी पहलू विशेष रूप से किशोर और महिलाओं से संबंधित विभिन्न कानूनों के महत्व को उजागर किया गया है।

  इस अवसर पर बोलते हुए, प्रो0 वीर सिंह ने लेखकों को बधाई दी और उनके भविष्य के प्रयासों के लिए सफलता की कामना की। उन्होंने आशा व्यक्त की कि “क्रिमिनोलॉजी, पेनोलॉजी और विक्टिमोलॉजी“ छात्रों को पर्याप्त और प्रामाणिक पाठन सामग्री प्रदान करने में मदद करेगी। उन्होंने लेखनी के माध्यम से साहित्य को बढ़ावा देने के लिए विषेष रुप से डॉ0 के.पी. सिंह की सराहना करते हुए कहा कि ये दोनों पुस्तकें पाठकों के लिए उपयोगी साबित होंगी। उन्होंने आशा जताई कि डॉ0 सिंह कलम के माध्यम से भी समाज की सेवा जारी रखेंगे।

  इंस्टीट्यूट ऑफ करेक्टिव एडमिनिस्ट्रेशन, चंडीगढ़ की उप निदेशक डॉ0 उपनीत लाली ने “क्रिमिनोलॉजी, पेनोलॉजी एंड विक्टिमोलॉजी“ के दूसरे संस्करण के बारे में संक्षेप में बताया और कहा कि यह  पुस्तक अपराध के सभी हिस्सों की व्याख्या करने में सक्षम है जो अधिवक्ताओं के साथ-साथ न्यायिक और पुलिस अधिकारियों के लिए भी उपयोगी सिद्ध होगी।

  इस अवसर पर चंडीगढ़ न्यायिक अकादमी के पूर्व निदेशक, प्रो0 वीरेंद्र कुमार, जो संवैधानिक कानूनों के विशेषज्ञ भी हैं, ने सफल प्रयास के लिए लेखकों को बधाई दी।

  हरियाणा मुख्यमंत्री के विशेष अधिकारी (सामुदायिक पुलिसिंग और आउटरीच), श्री ओ.पी. सिंह, आईपीएस, संपादक राजस्थान पत्रिका, श्री ओम थनवी और कस्टम और बिक्री कर में वरिष्ठ अधिकारी, श्री संजय ने भी इस अवसर पर अपने विचार रखे। 

  इस अवसर पर पुलिस महानिदेशक (मुख्यालय), श्री के.के. मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, (कानून एवं व्यवस्था), मोहम्मद अकील, एडीजीपी राज्य सतर्कता ब्यूरो, श्री आलोक कुमार रॉय, आईजीपी आधुनिकीकरण श्री एच.एस. दून, आईजीपी वाई. पूरन कुमार, श्रीमती अमनीत पी. कुमार, आईएएस, राज्य सूचना आयुक्त, श्री अरुण सांगवान, ब्रिगेडियर। (सेवानिवृत्त) श्री राज कुमार, प्रो0 बलराम गुप्ता, संपादक युगमर्ग, डॉ0 चंद्र त्रिखा, विशिष्ट अतिथिगण एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
tatkalnews.com
AAR ESS Media
newstatkal@gmail.com
tatkalnews181@gmail.com
Visitor's Counter : 68220542
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved.
Desktop Version