हरियाणा

फरीदाबाद में आयोजित राष्ट्रीय स्तरीय विद्यार्थी विज्ञान मंथन कार्यक्रम के अंतर्गत राज्य स्तरीय शिविर तथा बहुस्तरीय परीक्षा में 126 विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया जिसमें से 18 विद्यार्थियों (प्रत्येक कक्षा से तीन) का चयन किया गया

जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद में आयोजित राष्ट्रीय स्तरीय विद्यार्थी विज्ञान मंथन कार्यक्रम के अंतर्गत राज्य स्तरीय शिविर तथा बहुस्तरीय परीक्षा में 126 विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया जिसमें से 18 विद्यार्थियों (प्रत्येक कक्षा से तीन)  का चयन किया गया।
विश्वविद्यालय के प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय स्तरीय विद्यार्थी विज्ञान मंथन कार्यक्रम का आयोजन देश में विज्ञान को प्रोत्साहित करने के लिए कार्यरत संस्था विज्ञान भारती द्वारा आयोजित किया गया।
इस शिविर व परीक्षा का उद्देश्य कक्षा 6वीं से 11वीं तक विज्ञान में रूचि रखने वाले राज्य के श्रेष्ठ विद्यार्थियों का चयन करना है जो राष्ट्रीय स्तर पर हरियाणा का प्रतिनिधित्व करेंगे। राष्ट्रीय शिविर का आयोजन इसी वर्ष मई में किया जायेगा। 
इस शिविर में प्रतिभागियों ने रचनात्मक लेखन की कौशल परीक्षा, प्रयोगात्मक कौशल, प्रस्तुतिकरण, नेतृत्व क्षमता, रचनात्मक सोच तथा अभिनव अध्ययन पर आधारित बहुस्तरीय प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। शिविर व परीक्षा के आधार पर 18 विद्यार्थियों (प्रत्येक कक्षा से तीन)  का चयन किया गया।
उल्लेखनीय है कि भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग तथा राष्ट्रीय शिक्षा अनुसंधान व प्रशिक्षण परिषद् के तहत विज्ञान भारती तथा विज्ञान प्रसार के संयुक्त तत्वावधान में विज्ञान प्रतिभाओं की खोज के लिए विद्यार्थी विज्ञान मंथन कार्यक्रम चलाया जा रहा है।
इसके अंतर्गत विज्ञान पर पहली राष्ट्रीय परीक्षा 25 से 28 नवम्बर, 2018 को आयोजित की गई थी, जिसमें एक लाख 47 हजार विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया था और हरियाणा के विभिन्न विद्यालयों से परीक्षा में आठ हजार से ज्यादा विद्यार्थी शामिल हुए थे। इस परीक्षा के आधार पर हरियाणा विज्ञान परिषद् द्वारा लगाये गये शिविर के लिए 147 विद्यार्थियों का चयन हुआ था।  
प्रतियोगिता में सफल विद्यार्थियों को समापन समारोह में मुख्य अतिथि हरियाणा उच्च शिक्षा परिषद् के अध्यक्ष प्रो. बी.के. कुठियाला ने नकद पुरस्कार, प्रमाण पत्र व स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर बोलते हुए उन्होंने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित किया तथा विज्ञान के योगदान पर अपने विचार रखे।
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
tatkalnews.com
AAR ESS Media
newstatkal@gmail.com
tatkalnews181@gmail.com
Visitor's Counter : 68278323
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved.
Desktop Version