हरियाणा

तीन-दिवसीय 71वाँ वार्षिक निरंकारी सन्त समागम आज से शुरू

71वें वार्षिक निरंकारी सन्त समागम की तैयारियां अंतिम चरण में22 नवम्बर, 2018 समालखा, गनाैर पानीपत, तीन-दिवसीय 71वाँ वार्षिक निरंकारी सन्त समागम 24 नवम्बर, 2018 से आयोजित किया जा रहा है। सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज ने समागम स्थल पर तैयारियों का उद्घाटन 14 अक्तूबर को किया। तभी से 4000 से भी अधिक सन्त निरंकारी सेवादल के सदस्य तथा अन्य श्रद्धालु भक्त प्रत्येक दिन सेवा कर रहे हैं। इनमें दिल्ली और हरियाणा के अलावा देश के अन्य भागों से आकर भी भक्तों ने सेवा की।

इस वर्ष पहली बार यह समागम सन्त निरंकारी मिशन की अपनी भूमि ’सन्त निरंकारी आध्यात्मिक स्थल’ जी.टी. रोड, समालखा में आयोजित किया जा रहा है जो कि 600 एकड़ से भी अधिक क्षेत्र में फैला हुआ है। समागम के प्रबन्ध के लिए सन्त निरंकारी मण्डल की कार्यकारिणी समिति को ही समागम समिति का रूप दिया गया है। इसके महासचिव श्री वी. डी. नागपाल जी को समागम के लिए संयोजक ;ब्ववतकपदंजवतद्ध की जिम्मेदारी दी गई है। केन्द्रीय योजना तथा सलाहकार बोर्ड के सदस्यों एवं सन्त निरंकारी सेवादल के केन्द्रीय अधिकारियों से भी इस समिति में सहयोग प्राप्त किया जा रहा है। प्रत्येक विभाग की सहायता के लिए कुछ विशेष समितियों का गठन भी किया गया है।

मुख्य सत्संग पण्डाल में दो लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं के बैठने की व्यवस्था की गई है। पण्डाल के आस-पास विभिन्न विभागों के कार्यालय बनाये जा रहे हैं। बसों तथा अन्य वाहनों की पार्किंग व्यवस्था भी सत्संग पण्डाल से अधिक दूर नहीं है।

समागम स्थल पर सत्संग पण्डाल के पीछे पहली बार एक ही स्थान पर चार प्रर्दशनियां लगाई जा रही हैं। इनमें से मुख्य ’निरंकारी प्रदर्शनी’ का एक बहुत बड़ा भाग सद्गुरु माता सविन्दर हरदेव जी महाराज के जीवन एवं शिक्षाओं के प्रति समर्पित रहेगा। इसके अतिरिक्त यह प्रदर्शनी मिशन के इतिहास के साथ-साथ समागम, सद्गुरु की भारत तथा दूर देशों की कल्याण यात्राओं तथा समाज कल्याण की गतिविधियों को दर्शायेगी।

संत निरंकारी चेरिटेबल फाउंडेशन द्वारा अपनी गतिविधियों को दुर्लभ मॉडलों तथा फोटो द्वारा एक अलग प्रदर्शनी में प्रस्तुत किया जायेगा। इसमें रक्तदान शिविर, वृक्षारोपण तथा सफाई अभियान तथा युवा एवं महिला सशक्तीकरण इत्यादि कार्यों को प्रदर्शित किया जायेगा। इसके साथ स्वास्थ्य एवं समाज कल्याण विभाग भी अपनी प्रदर्शनी लगायेगा।

गत् वर्षों की भांति मिशन की चण्डीगढ़ शाखा द्वारा ’बाल प्रदर्शनी’ का आयोजन किया जायेगा। यह प्रदर्शनी बच्चों के द्वारा मॉडल तथा एनीमेशन के आधार पर तैयार की जा रही है। इसका उद्देश्य मिशन के सिद्धान्तों को बच्चों के दृृष्टिकोण से प्रदर्शित करना है।

समागम में भाग लेने के लिये बाहर से आने वाले भक्तों को सलाह दी गई हैं कि वे समागम स्थल के पास लगने वाले भोडवाल माजरी रेलवे स्टेशन पर ही उतरें। वहां सेवादल उनका स्वागत करेगा और उन्हें अपने रिहाइशी टेंटों तक पहुंचायेगा। रेलवे द्वारा पहले ही यह आदेश जारी कर दिया गया है कि 10 नवम्बर से लेकर 5 दिसम्बर, 2018 तक सभी मेल तथा एक्सप्रेस गाडि़यां 2 मिनट के लिये भोडवाल माजरी स्टेशन पर रूकेंगी।

ट्रांसपोर्ट विभाग की ओर से एक हेल्पलाईन नम्बर भी जारी किया गया है। नम्बर है 011-43188666। यह हेल्पलाईन 20 नवम्बर से 28 नवम्बर, 2018 तक उन सभी महात्माओं के लिए उपलब्ध रहेगी जो समागम में भाग लेने के लिए बाहर से आयेंगे और हवाई अड्डे, दिल्ली के रेलवे स्टेशनों तथा आई.एस.बी.टी. पर उतरेंगे। दिल्ली के रेलवे स्टेशन हैं - पुरानी दिल्ली, नई दिल्ली, हज़रत निज़ामुद्दीन, आनंद विहार, सराय रोहेला और सब्ज़ी मण्डी। आई.एस.बी.टी. हैैं-काश्मीरी गेट, आनंद विहार और सराय काले खाँ। इनके अलावा जो श्रद्धालु भक्त भोडवाल माजरी तथा पानीपत रेलवे स्टेशनों पर उतरेंगे, यह सुविधा उनके लिए भी उपलब्ध रहेगी।

सन्त निरंकारी मण्डल के स्वास्थ्य एवं समाज कल्याण विभाग की ओर से समागम के दौरान श्रद्धालु भक्तों की स्वास्थ्य से संबंधित समस्याओं के समाधान के लिये 14 डिस्पेंसरियाँ कार्य करेंगी जिनमें कुल 85 बिस्तरों का भी प्रबंध किया जायेगा। इनके अतिरिक्त 11 प्राथमिक सहायता केन्द्र, 18 एम्बुलेंस (जिनमें छः 102 एम्बुलेंस सम्मिलित हैं) भी उपलब्ध रहेंगी। गम्भीर अवस्था में मरीजों को निकट के पानीपत, सोनीपत एवं दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में पहुंचाने का प्रबंध भी किया गया है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
tatkalnews.com
AAR ESS Media
newstatkal@gmail.com
tatkalnews181@gmail.com
Visitor's Counter : 68220419
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved.
Desktop Version