हरियाणा

मुख्यमंत्री ने पानीपत में ग्रामीणों को बड़ी राहत देते हुए लाल डोरे की प्रथा को खत्म करने की घोषणा की

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पानीपत में आयोजित जनविश्वास रैली में हरियाणा दिवस के मौके पर प्रदेश के लोगों के लिए सौगातों की झड़ी लगाई। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ग्रामीणों को बड़ी राहत देते हुए लाल डोरे की प्रथा को खत्म करने की घोषणा की और कहा कि अब प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री हो सकेगी और उनका रेवेन्यू रिकोर्ड भी बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने आज से वृद्धावस्था, विधवा व दिव्यांग पेंशन की राशि बढ़ाकर 2000 रुपए कर दिए जाने की घोषणा की। 
वीरवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पानीपत में आयोजित जनविश्वास रैली में कहा कि अब भूतपूर्व सरपंच को एक हजार रुपये, पूर्व मेयर को ढाई हजार रुपए, पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर और पूर्व डिप्टी मेयर को दो हजार रुपये पैंशन प्रदान की जाएगी। यही नहीं नगर परिषद के पूर्व प्रधान को भी 2 हजार मासिक पैंशन दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि ये सभी कोई अन्य पेंशन ले रहे हैं, तो इस पेंशन का लाभ नहीं पा सकेंगे। उन्होंने कहा कि फायरमैन, सीवरमैन जैसे जोखिम भरे कार्य करने वाले कर्मचारियों की यदि कार्य करते हुए दुर्घटनावश मृत्यु हो जाती है तो उन्हें 10 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा सरकार की ओर से प्रदान किया जाएगा जिसका प्रीमियम सरकार की ओर से भरा जाएगा। इसके अलावा हरियाणा सरकार के सभी कर्मचारियों को अब मेडिकल रिम्बर्समेंट की बजाय कैशलेस इलाज की सुविधा देने की घोषणा भी की इससे कर्मचारियों को काफी राहत मिलेगी ।उन्होंने कहा कि अब पूरे हरियाणा में छात्र, छात्राओं के वाहन चालक के लर्निंग लाइसेंस प्राचार्य बना सकेंगे। पक्के ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ड्राइविंग टेस्ट पास करने का प्रमाण पत्र बनाने का अधिकार भी प्राचार्य को दिया गया है। 

 मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सक्षम योजना में अभी 52 हजार युवा पंजीकृत हैं। आज 1 नवंबर से कला स्नातक युवा भी सक्षम योजना में पंजीकृत हो सकेंगे, इससे लगभग 30 हजार नए युवाओं को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र की छोटी 3 व  4 करम की सड़कों पर भी पक्का खडंजा बिछाया जाएगा। इस योजना के पहले चरण में हर विधानसभा में 25 किलोमीटर सडक़ों को पक्का किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने केएमपी के पूर्ण होने की बधाई देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 10 नवंबर को इसका उद्घाटन किया जाएगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विधानसभा पानीपत ग्रामीण वासियों को मनोहर सौगात देते हुए लगभग 78 करोड़ रुपये की 36 विकास परियोजनाओं की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने रैली से पूर्व नए सरकारी अस्पताल में 200 बैड के नए ब्लॉक का भी उद्ïघाटन किया। उन्होंने रैली स्थल पर 30 एमएलडी क्षमता के मलजल शोधन संयत्र और सरकारी वैट्रनरी पॉली क्लीनिक का उद्घाटन व समालखा से इसराना सड़क और समालखा से सनौली सड़क की आधारशीला रखी। मुख्यमंत्री ने पानीपत ग्रामीण के विधायक द्वारा रखी गई 36 मांगों को स्वीकृति प्रदान की। जिसमें मुख्य रूप से पानीपत नगर निगम क्षेत्र के हर वार्ड में 3 टयूबवेल, नहर के साथ लगती गोहाना से असंध सड़क को फोर लेन बनाने, एनएफएल तक आरसीसी, ड्रेन नम्बर 1 से सनौली रोड तक आरसीसी की पक्की सड़क बनाने, बाल विकास स्कूल मॉडल टाउन से जाटल रोड़ रजवाहे के ऊपर व जाटल रोड़-गोहाना रोड रजवाहे के ऊपर तक सड़क निर्माण करने, सैक्टर 12 में पुराने सामुदायिक केन्द्र के स्थान पर बहुउद्देशीय हॉल, 2 बड़ी व 4 छोटी वैक्यूम क्लीनर मशीनें उपलब्ध करवाना शमिल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसराना विधानसभा के लिए वर्ष 2018 की 39 करोड़ रुपये की 29 घोषणाएं की गई हैं। इसके अलावा पानीपत की तरह अन्य कार्यों के लिए इसराना को भी 15 करोड़ रुपये अलग से देने की घोषणा की। 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
tatkalnews.com
AAR ESS Media
newstatkal@gmail.com
tatkalnews181@gmail.com
Visitor's Counter : 68215216
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved.
Desktop Version