हरियाणा

मनोहर लाल ने यमुनानगर जिले के रादौर हल्के को मनोहर सौगात देते हुए लगभग 60 करोड़ रुपये के विकास कार्यों की घोषणा की

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने यमुनानगर जिले के रादौर हल्के को मनोहर सौगात देते हुए लगभग 60 करोड़ रुपये के विकास कार्यों की घोषणा की, जिसमें उपमंडल रादौर में मिनी सचिवालय का निर्माण, रादौर-मॉडल टाउन-जठलाना सडक़ को 7 मीटर तक चौड़ा करने सहित कई अन्य कार्य शामिल हैं। इसके साथ ही नगर पालिका रादौर की सभी मांगे पूरी करने का भी वायदा किया। मुख्यमंत्री ने यमुनानगरवासियों को बड़ी राहत देते हुए दामला टोल बैरियर को  प्रथम नवंबर, 2018 से खत्म करने की घोषणा की। 
मुख्यमंत्री ने यह घोषणाएं आज यमुनानगर के दामला गांव में आयोजित जन विश्वास रैली को संबोधित करने के दौरान की। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने जठलाना के नजदीक गांव संधाला से यमुना नदी पर 104 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले उच्च स्तरीय पुल की आधारशिला रखी। मुख्यमंत्री ने रादौर के विधायक श्री श्याम सिंह राणा द्वारा खेतों के कच्चे रास्तों को पक्का करवाने की रखी गई मांग को पूरा करते हुए 10 करोड़ रुपये देने की घोषणा भी की। 
मुख्यमंत्री ने मंच से यमुनानगर जिले के रादौर हल्के में 15 गांवों में लगभग 2 करोड़ रुपये की लागत से 15 अंबेडकर भवन, 20 करोड़ रुपये की लागत से उपमंडल रादौर में मिनी सचिवालय का निर्माण, 10 करोड़ रुपये की लागत से रादौर-मॉडल टाउन-जठलाना सडक़ को 7 मीटर चौड़ा करने, 8 करोड़ रुपये की लागत से लोक निर्माण विभाग (भवन एवं सडक़ें) और मार्केटिंग बोर्ड विभाग की 8 नई सडक़ें, 20 करोड़ रुपये की लागत से 43 अन्य छोटे कार्य और राक्षी नाल के पुुनर्गठन की घोषणा की। इसके साथ ही नगर पालिका रादौर की सभी मांगे पूरी करने का भी वायदा किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि संधाला में बनने वाले इस पुल से उत्तर प्रदेश के उपमंडल नकुड़ से हरियाणा सीधा जुड़ जाएगा और हरियाणा के कई गांव के उन किसानों को फायदा होगा जिनके खेत यमुना नदी के पूर्वी तट पर या यमुना नदी के टापू में स्थित है। उन्होंने स्पष्ट किया कि इस पुल के निमार्ण होने से हरियाणा और उत्तर प्रदेश की गंगा-यमुना संस्कृति को भी बढ़ावा मिलेगा। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि ट्रैफिक की समस्या को देखते हुए दामला से रादौर सडक़ को चार लेन बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि एनएचएआई द्वारा कैल-कलानौर बाईपास बनाने से यमुनानगर-जगाधरी शहर में ट्रैफिक की समस्या से निजात मिली है।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार समान रूप से विकास कार्य करवा रही है । विकास के साथ-साथ हमने समाज की दिशा बदलने का बड़ा काम किया है। उन्होंने कहा कि विकास सही गति और सही तरीके से हो इसके लिए हमने सिस्टम में कई बड़े परिवर्तन किये। सभी सरकारी सेवाओं को ऑनलाइन किया ताकि जनता घर बैठे सभी सरकारी सेवाओं को लाभ उठा सके, इसके लिए अत्योदय भवन खोले गए हैं जहां एक ही छत के नीचे सभी सरकारी सेवाओं का लाभ मिले और लोगों को कार्यालयों के चक्करनहीं काटने पड़ेंगे। उन्होंने कहा कि सिस्टम को ऑनलाइन करने से भ्रष्टाचार पर भी लगाम लगी है। उन्होंने कहा कि आज भी कहीं न कहीं भ्रष्टाचार की कुछ शिकायतें प्राप्त होती हैं तो उन पर तुरंत कार्रवाई की जाती है। उन्होंने उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार पर लगाम तब लगेगी जब आमजन भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त होगा इसलिए भ्रष्टाचार न करें और जो करे उसके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाएं। 
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए कई कदम उठाए हैं। नए उद्योग लगाने के लिए प्राप्त करने वाले 70-80  लाइसेंस और सर्टिफिकेट को एक ही छत के नीचे केवल 30 दिन में जारी करने का सिस्टम बनाया, जिससे उद्योग लगाने में कोई परेशानी न हो सके। उन्होंने कहा कि  यमुनानगर में प्लाईवुड उद्योग बड़ा उद्योग है और ये प्लाईवुड मार्किट एशिया की सबसे बड़ी प्लाईवुड मार्किट  है। पिछली सरकार के कार्यकाल के दौरान यहां प्लाईवुड उद्योग लगाने के लिए नये लाइसेंस नहीं मिलते थे, जिसे हमने खत्म किया और नये लाइसेंस आसानी से जारी किये जा रहे हैं। 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में जीएसटी के रूप में बहुत बड़ा बदलाव आया और आज व्यापारी वर्ग बहुत खुश है, जिससे कहीं न कहीं टैक्स चोरी में भी कमी आई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लगभग 14 हजार तालाबों को ठीक करने के लिए तालाब प्राधिकरण बनाया गया है जिससे सभी तालाबों को ठीक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा की जनता मेरा परिवार है, इसलिए हमने पूरे प्रदेश में समान विकास करवाया गया है। उन्होंने कहा कि बेटियों को उच्च शिक्षा के लिए ज्यादा दूर न जाना पड़े इसलिए प्रदेश में ऐसे 29 स्थानों को चिह्निïत किया गया जहां 20 किलोमीटर के दायरे में कोई भी कॉलेज नहीं है। उनमें से 22 स्थानों पर 22 गल्र्स कॉलेजों का एक साथ शिलान्यास किया गया। आज तक किसी भी सरकार में एक साथ 22 कॉलेजों का शिलान्यास नहीं किया गया है। 
मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि व्यवस्था परिवर्तन करने के लिए हमने पंचायती राज संस्थाओं में बड़ा बदलाव किया। हमने पढ़ी-लिखी पंचायतों के लिए सुप्रीम कोर्ट तक लड़ाई लड़ी और निर्णय हमारे पक्ष में आया और सिर्फ इतना हीं नहीं सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह व्यवस्था जो हरियाणा ने शुरू की है दूसरे प्रांत भी इसे अपनाएं। 
उन्होंने कहा कि हरियाणा के इतिहास में पहली बार हमारी सरकार ने बिजली के दाम आधे किये। उन्होंने कहा कि हमने लोगों से अपील की कि वे बिजली के बिल भरें ताकि सरकार उन्हें 24 घंटे बिजली दे सके और लोगों के सहयोग से आज हम ‘म्हारा गांव-जगमग गांव’ योजना के तहत 6 जिलों के 2800 गांवों को 24 घंटे बिजली दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि 2 महीने में यमुनागनर जिला भी सातंवा जिला बन जाएगा जिसके सभी गांवों को 24 घंटे बिजली मिलेगी। 
उन्होंने कहा कि सिंचाई के लिए पानी की उपलब्धता के लिए सरकार ने लखवार डैम का समझौता किया है जिससे 47 प्रतिशत पानी हरियाणा को मिलेगा, इसके साथ ही किशाऊ डैम और रेणुका बांध से भी पानी की उपलब्धता पूरी होगी। उन्होंने कहा कि हथनीकुंड बैराज चैनल लिंक नहर की क्षमता भी बढ़ाने का कार्य शुरू हो गया है, जिस पर लगभग 2 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली सरकार ने अपने कार्यकाल के आखिरी वर्ष में बहुत ज्यादा घोषणाएं की, जिसका बजट भी सरकार के पास नहीं था। उन्होंने कहा कि हम राजनीति नहीं करना चाहते इसलिए अपने कार्यकाल के अंतिम वर्ष में केवल वही घोषणाएं करेंगे जिन्हें हम एक साल में पूरा कर सकें। 
विधानसभा स्पीकर श्री कंवर पाल ने कहा कि ये रैली आज तक की सबसे बड़ी रैली है और इसका एकमात्र कारण प्रधानमंत्री श्री नरेंद्री मोदी और मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की लोकप्रियता और जनता का इन दोनों नेतृत्व पर विश्वास है। उन्होंने कहा कि सडक़ सुधार में बड़ा परिवर्तन हुआ है। उन्होंने कहा कि सीएम विंडो के माध्यम से 3 लाख 71 हजार समस्याओं का हल शीघ्रता से हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की प्रशासन पर पकड़ है और वर्तमान सरकार ने पिछली सरकार के मुकाबले 10 गुणा ज्यादा विकास कार्य करवाए हैं। 
उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान व बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान में हरियाणा की कार्यशैली सराहनीय रही है। उन्होंने कहा कि हरियाणा देश में पहला राज्य है जहां छोटी बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने वाले अपराधी को फांसी की सजा का कानून बनाया है और गौ-रक्षा का कानून भी हरियाणा प्रदेश में ही पहली बार पास किया गया। उन्होंने कहा कि किसानों के हितों में अहम फैसले लिये गए हैं, जिसका एक उदाहरण यह है कि सरकार ने 4 साल में किसानों को मुआवजे के तौर पर 3 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि प्रदान की है। 
जन विश्वास रैली में अंबाला के सांसद रतन लाल कटारिया, रादौर के विधायक श्याम सिंह राणा, यमुनानगर के विधायक घनश्याम दास अरोड़ा, सढौरा के विधायक बलवंत सिंह ने भी अपने विचार रखे और केंद्र व राज्य सरकार की जन कल्याणकारी नीतियों का ब्यौरा जनता के समक्ष पेश किया। 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
tatkalnews.com
AAR ESS Media
newstatkal@gmail.com
tatkalnews181@gmail.com
Visitor's Counter : 68418272
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved.
Desktop Version