बच्चो के लिए

बंसी, भजन व हुड्डा से बिगाड़ी, कहीं मनोहर से न बिगड़ जाए : राव इंद्रजीत

COURTESY NBT SEPT 26

रेवाड़ी के गांव पाल्हवास में हुई जनसभा, माला पहनाकर केंद्रीय राज्यमंत्री का स्वागत
जनसभा में राव इंद्रजीत को मुख्यमंत्री बनाने की मांग उठी•एक संवाददाता, रेवाड़ी

 

केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि क्षेत्र के साथ भेदभाव हुआ है। पूर्व सीएम बंसीलाल, भजनलाल व हुड्डा से उनकी बिगाड़ चुकी है। अब डर है कि कहीं मनोहर लाल से न बिगड़ जाए। सभा में राव को सीएम बनाने की मांग भी उठी।

मंगलवार को गांव पाल्हावास में आयोजित जनसभा में उन्होंने सीएम मनोहर लाल की तारीफ करते हुए कहा कि पुलिस की भर्ती में पहली बार दक्षिणी हरियाणा को महत्व मिला। दक्षिणी हरियाणा से 2205 युवकों को जहां पुलिस में नौकरी मिली, वहीं पूरे हरियाणा में 2245 युवा पुलिस में भर्ती हुए। इससे साफ पता चलता है कि हमारे पास टैलंट की कोई कमी नहीं है। राव ने कहा कि कहते हैं कि 13 साल में कूड़े के भी दिन फिर जाते हैं। हरियाणा बने आज 62 साल हो गए हैं तो फिर दक्षिणी हरियाणा का नंबर क्यों नहीं आ सकता। सीएम का पद कांटों का ताज है। हो सकता है हम अभी तक अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाए तो इसका मतलब यह नहीं कि आगे भी सफल नहीं होंगे। हमारी उम्मीद अभी भी जिंदा है, टूटी नहीं है। जनता सरकार बनाती है, लेकिन मुख्यमंत्री पार्टी बनाती है।

इस मौके पर जनसभा के संयोजक अनिल पाल्हवासिया द्वारा रखे गए मांग पत्र के जवाब में राव इंद्रजीत ने कहा कि भारी वर्षा के चलते क्षतिग्रस्त हुई फसल को मुआवजा दिलाने का पूरा प्रयास करेंगे। जनसभा में विधायक बिमला चौधरी पटौदी, विधायक ओमप्रकाश नारनौल, विधायक बिक्रम सिंह यादव कोसली, गुरुग्राम की चेयरमैन मधु आजाद व उप चेयरमैन अनिल यादव आदि प्रमुख रूप से

उपस्थित थे।

‘राव को सीएम देखना चाहती

है जनता’

जनसभा में राव इंद्रजीत को मुख्यमंत्री बनाए जाने की मांग वक्ताओं ने उठाई। विधायक बिमला चौधरी ने कहा कि क्षेत्र की जनता राव को सीएम देखना चाहती है। जनसभा में इसी आशय से जुड़ी रागनी गायक नरदेव ने रागनी प्रस्तुत की। जिसमें कहा गया कि-‘हरियाणा में राज बनेगा इंद्रजीत का’।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
tatkalnews.com
AAR ESS Media
newstatkal@gmail.com
tatkalnews181@gmail.com
Visitor's Counter : 130444749
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved.
Desktop Version